ADC ने सड़कों पर ब्लैक स्पॉट कर मांगी रिपोर्ट

पलवल। जिले में सबसे ज्यादा हादसे सड़कों और सड़कों पर होते हैं। ऐसे ब्लैक स्पॉट की जीपीएस लोकेशन फोटो और दुर्घटना के कारण तत्काल उपलब्ध कराएं, ताकि इन जगहों पर हो रहे हादसों के कारणों का पता चल सके। अपर उपायुक्त (एडीसी) हितेश कुमार ने गुरुवार को जिला सचिवालय के सभागार में आयोजित सड़क सुरक्षा एवं सुरक्षित स्कूल वाहन नीति की मासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा के तहत सभी नियमों का हर हाल में पालन कराया जाए.

ADC ने सड़कों पर ब्लैक स्पॉट कर मांगी रिपोर्ट

बैठक में एडीसी ने विभागों के अधिकारियों से जिले की सड़कों पर हो रहे सभी हादसों की जानकारी ली. उन्होंने कहा कि संबंधित विभाग हादसों के कारण, फोटो और लोकेशन की जानकारी भी दें. दुर्घटनाओं के कारण होने वाले ब्लैक स्पॉट की पहचान करें और वहां जाकर कारण सहित रिपोर्ट भेजें। आईकेएमपी, केजीपी, राष्ट्रीय राजमार्ग आदि सहित अन्य सड़क मार्गों पर साइन बोर्ड, कैट आई, रंबल स्ट्रिप्स, रिफ्लेक्टर, स्पीड ब्रेकर आदि लगाने का भी काम किया जाना चाहिए। जहां पार्किंग नहीं है, वहां पार्किंग साइन बोर्ड नहीं लगाए जाने चाहिए। उन स्थानों। अवैध खनन, ओवरलोड वाहनों का चालान किया जाए। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग और हरियाणा कृषि विपणन बोर्ड की ओर से सभी स्कूलों में स्पीड ब्रेकर और साइन बोर्ड होने चाहिए ताकि स्कूली बच्चों को कोई परेशानी न हो. एडीसी हितेश कुमार ने सुरक्षित स्कूल वाहन नीति के तहत जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल से जिले के सरकारी व निजी स्कूलों की जानकारी ली. उन्होंने कहा कि शिक्षा, पुलिस, आरटीए और संबंधित एसडीएम के अधिकारियों की एक टीम बनाकर उपमंडलवार कार्यक्रम तैयार किया जाए, जो हर सप्ताह स्कूलों का दौरा करे और यह टीम एक महीने में लगभग 100 स्कूलों को कवर करे.

इस अवसर पर एसडीएम होडल डॉ. चिनार, आरटीए जितेश कुमार, डीएसपी सतेंद्र, नगर परिषद पलवल के कार्यकारी अधिकारी मनोज यादव, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता नरेंद्र यादव, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल आदि उपस्थित थे.

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published.