Consumer Forum: एयर इंडिया पर 25 हजार रुपये का जुर्माना, युवक ने लगाई थी यह याचिका, टिकट की रकम लौटाने के आदेश

कोरोना काल में टिकट होने के बावजूद हवाई यात्रा से वंचित करने पर फोरम ने फैसला सुनाया है। यदि एयर इंडिया ने दो महीने में भुगतान नहीं किया तो उसे आठ प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज देना पड़ेगा।

Consumer Forum: एयर इंडिया पर 25 हजार रुपये का जुर्माना, युवक ने लगाई थी यह याचिका, टिकट की रकम लौटाने के आदेश

एयर इंडिया की टिकट होने के बावजूद याचिकाकर्ता के हवाई यात्रा से वंचित रहने पर हरियाणा के यमुनानगर में जिला उपभोक्ता फोरम ने एयर इंडिया पर 25 हजार रुपये जुर्माना किया है। साथ ही फोरम ने याचिकाकर्ता को उसकी एयर टिकट की रकम देने का भी आदेश सुनाया है।

श्रीनगर कॉलोनी निवासी गौरव गर्ग पढ़ाई करने के लिए कनाडा गया हुआ था। कोरोना काल में भारत आने के लिए उसने यात्रा ऑनलाइन प्राइवेट लिमिटेड गुरुग्राम के माध्यम से एयर इंडिया की वैंकूवर से इंडिया की एयर टिकट बुक करवाई। गौरव को 20 जनवरी 2021 की टिकट (फ्लाइट संख्या 1-186 ) दी गई।

गौरव 20 जनवरी 2021 को वैंकूवर एयरपोर्ट पहुंचा तो पता चला कि एयर इंडिया की फ्लाइट संख्या 1-186, 17 जनवरी को इंडिया के लिए उड़ान भर चुकी है। इससे गौरव को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। गौरव किसी तरह भारत आया।

कनाडा वापस जाने के लिए गौरव की एयर इंडिया की (फ्लाइट संख्या 1-185) उड़ान 14 फरवरी 2021 को थी। जब गौरव एयरपोर्ट पहुंचा तो एयर इंडिया की एक अधिकारी ने गौरव का पासपोर्ट और अन्य कागजात चेक करने के बाद कहा कि हमारे रिकार्ड में आप इंडिया में आए ही नहीं हो। इसलिए आप इस फ्लाइट से हवाई यात्रा नहीं कर सकते।

कोरोना काल होने के कारण गौरव को वापस कनाडा जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कनाडा पहुंचने के बाद गौरव ने एडवोकेट प्रमोद गुप्ता के माध्यम से उपभोक्ता फोरम में याचिका दायर की। फोरम ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद माना कि इसमें एयर इंडिया की ओर से सर्विस में लापरवाही हुई है।

फोरम ने एयर इंडिया पर 25 हजार रुपये जुर्माना किया और याचिकाकर्ता को उसकी एयर टिकटों की रकम लौटाने के भी आदेश दिए। यदि एयर इंडिया ने दो महीने में भुगतान नहीं किया तो उसे आठ प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज देना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *