फरीदाबाद: रोडवेज में किलोमीटर स्कीम के तहत दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक बसें, योजना से लेकर जानिए हर डिटेल

Kilometer Scheme: फरीदाबाद में अब किलोमीटर स्कीम के तहत शहर में इलेक्ट्रिक बसें दौडेंगी। बसों पर ड्राइवर, तेल और मेंटिनेंस का पूरा खर्चा कंपनी वहन करेगी। कंडक्टर रोडवेज होगा। किलोमीटर स्कीम वाली बस पर चालक, डीजल और मेंटिनेंस का खर्च प्राइवेट फर्म का होता है और कंडक्टर रोडवेज का होता है।

फरीदाबाद: रोडवेज में किलोमीटर स्कीम के तहत दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक बसें, योजना से लेकर जानिए हर डिटेल

फरीदाबाद : परिवहन विभाग रोडवेज में शामिल होने वालीं इलेक्ट्रिक बसों को किलोमीटर स्कीम के तहत सड़क पर उतारेगा। इन बसों को केंद्र सरकार की एजेंसी खरीदेगी। जहां से प्रदेश सरकार बसों को किलोमीटर स्कीम की तरह लेगी। बसें, ड्राइवर और अन्य समान कंपनी का होगा, जबकि कंडक्टर केवल हरियाणा रोडवेज का होगा।

दरअसल, डीजल की खपत से बचने और प्रदूषण को कम करने के लिए हरियाणा सरकार ने रोडवेज में इलेक्ट्रिक बसें चलाने का फैसला लिया है। परिवहन विभाग की ओर से डिपो के पास एक लेटर आया है, उसमें अधिकारियों से इलेक्ट्रिक बसों की मांग की रिपोर्ट मांगी गई है। इसके तहत डिपो ने 100 इलेक्ट्रिक बसों की मांग रखी है। वहीं प्रदेश सरकार ने 550 इलेक्ट्रिक बस लेने का फैसला लिया है।

11 शहरों में चलेंगी बसें

ये इलेक्ट्रिक बसें प्रदेश के 11 शहरों में अगले साल यानी 2023 में चलाई जाएंगी। प्रदेश सरकार बसों को किलोमीटर स्कीम की तरह लेगी। ट्रांसपोर्ट विभाग ने पहले भी किलोमीटर स्कीम के तहत डीजल बसें ली हुईं हैं। फरीदाबाद डिपो में किलोमीटर स्कीम वाली 25 बसें हैं। ये इलेक्ट्रिक बसें फरीदाबाद, गुड़गांव, पंचकूला, अंबाला, करनाल, पानीपत, सोनीपत, रोहतक, हिसार, यमुनानगर और रेवाड़ी में चलेंगीं। ये बसें 9 मीटर और 12 मीटर लंबाई की कैटिगरी में होंगी और सभी एयर कंडीशन होंगी।

क्या होता है किलोमीटर स्कीम

किलोमीटर स्कीम वाली बस पर चालक, डीजल और मेंटिनेंस का खर्च प्राइवेट फर्म का होता है और कंडक्टर रोडवेज का होता है। परिवहन विभाग स्कीम बस ऑपरेटरों को 26.92 रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से भुगतान करता है और बसों से होने वाली आमदनी रोडवेज की होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.