फतेहाबाद : पोर्टल में परेशानी, बायोमेट्रिक नहीं लगी आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए लगी लाइनें

फतेहाबाद : पोर्टल में परेशानी, बायोमेट्रिक नहीं लगी आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए लगी लाइनें

फतेहाबाद। मंगलवार को चिरायु योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए पात्रों को भटकना पड़ा। पोर्टल में गड़बड़ी के कारण जो लोग कार्ड बनवाने आए वे बनवा नहीं पाए। पोर्टल पर बायोमैट्रिक अपडेट नहीं हो पा रहा है। करीब एक घंटे के बाद पोर्टल चालू हुआ लेकिन धीरे-धीरे चला। पोर्टल धीमी गति से चलने के कारण सिविल अस्पताल के आयुष्मान मित्र केंद्र पर पात्रों की कतार लग गई।

वर्तमान में आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए सिविल अस्पताल में मात्र एक मित्र केंद्र चल रहा है। जिले में लगभग 98 हजार 960 परिवारों के तीन लाख 60 हजार 269 हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड बनने हैं।

एसएमओ व एमओ के लिए रोजाना सात हजार कार्ड बनवाने होंगे
सिविल सर्जन डॉ. सपना गहलावत ने वीसी के माध्यम से जिले के सीएचसी व पीएचसी में पदस्थापित वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी (एसएसएमओ) व चिकित्सा अधिकारी (एमओ) को प्रतिदिन प्रति प्रखंड कम से कम सात हजार आयुष्मान कार्ड बनवाने के निर्देश दिए. नगरीय क्षेत्रों में ग्राम सरपंच एवं नंबरदार एवं पार्षदों से सम्पर्क स्थापित कर अपने-अपने क्षेत्र में विशेष शिविरों का आयोजन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों के माध्यम से पात्र व्यक्तियों को इन शिविरों में लाया जाए और उनके आयुष्मान कार्ड बनाए जाएं। डॉ. सपना ने कहा कि पात्र व्यक्तियों को कार्ड बनवाने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। कार्ड बनवाने के लिए नागरिकों से एक रुपया भी नहीं लिया जाए।
निरोगी हरियाणा अभियान में तेजी लाने के निर्देश दिए
चिरायु व निरोगी हरियाणा अभियान को लेकर एसएमओ व एमओ की बैठक आयोजित की गई है। निरोगी हरियाणा अभियान को लेकर भी निर्देश दिए गए हैं कि अधिक से अधिक पात्र व्यक्तियों की जांच की जाए। इस अभियान में कुछ दिक्कत है, यह मुख्यालय में बताया गया है।
– डॉ. सपना गहलावत, सिविल सर्जन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *