सिरसा में अच्छी बरसात, फिर भी पौधारोपण के लक्ष्य से पिछड़ा वन विभाग

सिरसा में पौधगिरी में 50 हजार पौधे भी स्कूलों तक नहीं पहुंचे हैं। प्रत्येक विद्यार्थी को एक-एक पौधा लगाना है। दूसरा अभियान जल शक्ति है। करीबन तीन लाख पौधे ग्राम पंचायतों के साथ मिलकर लगाए जाने हैं। 341 पंचायतों में से मात्र सौ पंचायतों के पास ही पौधे पहुंचे हैं।

सिरसा में अच्छी बरसात, फिर भी पौधारोपण के लक्ष्य से पिछड़ा वन विभाग

सिरसा । सिरसा में बरसात अच्छी है। जिले का कोई कोना ऐसा नहीं रहा जहां बरसात न हो, लेकिन इसके बावजूद पौधारोपण के मामले में पिछड़ रहे हैं। जिले में साढ़े आठ लाख पौधे लगाए जाने का लक्ष्य अलग-अलग स्कीमों में रखा गया है। अभी तक मात्र डेढ़ लाख पौधे ही लग पाए हैं। अन्य जिलों की अपेक्षा सिरसा इस मामले में पिछड़ गया है। वन विभाग के अधिकारी एक पखवाड़े के दौरान बड़े लक्ष्य को हासिल करने के लिए अब पूरी ताकत के साथ फील्ड में उतरेंगे जिसमें दूसरे विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों को भी शामिल किया जाएगा।

सिरसा में हर बार बरसात देरी से आती है लेकिन इस बार बारिश अन्य जिलों के साथ ही हुई है। वन विभाग ने बरसात से पहले पौधारोपण का पूरा प्लान तैयार किया लेकिन इसे लागू करने में कहीं न कहीं देरी रह गई इसी वजह से विभाग फिलहाल तीन स्कीमों में ही पौधारोपण कर पाया। पौधगिरी स्कूलों के लिए है और इसमें तीन लाख पौधे लगाए जाने हैं।

जिले में सौ तालाबों पर पौधारोपण का लक्ष्य रखा गया

फिलहाल पौधगिरी में 50 हजार पौधे भी स्कूलों तक नहीं पहुंचे हैं। प्रत्येक विद्यार्थी को एक-एक पौधा लगाना है। दूसरा अभियान जल शक्ति है। इसके तहत भी करीबन तीन लाख पौधे ग्राम पंचायतों के साथ मिलकर लगाए जाने हैं। 341 पंचायतों में से मात्र सौ पंचायतों के पास ही पौधे पहुंचे हैं। सभी पंचायतों को वन विभाग अभी कवर ही नहीं कर पाया है और इसी दौरान मानसूनी बरसात बंद हुई तो पौधारोपण अभियान को झटका लग सकता है। तीसरा अभियान फ्री सप्लाई है। इस स्कीम के तहत तीन लाख पौधे दिए जाने हैं। इसके अलावा कृषि वानिकी व अमृत सरोवर पर पौधारोपण किया जाना है। जिले में सौ तालाबों पर पौधारोपण का लक्ष्य रखा गया है।

पंचायतों पर फोकस

वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार कई विभागों के साथ मिलकर पौधारोपण अभियान चलाया जाएगा। गांव में संगठनों व अन्य लोगों के साथ मिलकर पौधे लगवाए जाने शुरू किए जा रहे हैं। जिला वन अधिकारी नवल किशोर ने बताया कि एक गांव में एक हजार पौधे लगाने का लक्ष्य है और इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हर गांव तक वन विभाग के कर्मचारी पहुंच रहे हैं। अगले पखवाड़े तक पौधारोपण में अच्छा लक्ष्य हासिल करेंगे।

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *