haryana chandighar breaking news hindi

चंडीगढ़ : हरियाणा और पंजाब सरकार के बीच चंडीगढ़ को लेकर तकरार जारी है, हरियाणा में पंजाब विधानसभा में पास प्रस्ताव का विरोध में सभी पार्टियां विशेष सत्र बुलाने की मांग कर रही थी. इसी को लेकर मुख्यमंत्री आवास पर CM मनोहर लाल खटर की अध्यक्षता में हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक हुई थी. और 5 अप्रैल यानि हरियाणा विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने का फैसला लिया गया था. आज विधानसभा के विशेष सत्र में चंडीगढ़ पर हरियाणा के हक के लिए सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया जाएगा. साथ ही इसे प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को भेजा जाएगा !

इतना ही नहीं पंजाब सरकार को घेरने के लिए हरियाणा की ओर से SYL का पानी और 400 हिंदी भाषी गांवों की वापसी का मुद्दा भी जोर-शोर से उठाया जाएगा ! बता दें कि हरियाणा पंजाब के बीच में राजधानी चंडीगढ़ को लेकर विवाद खड़ा हो गया है ! पंजाब सरकार ने 1 दिन का विधानसभा सत्र बुलाकर पंजाब को इसका पूर्ण हक प्रदान करने का प्रस्ताव पारित कर दिया है ! लेकिन हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटर  और विपक्ष के सभी नेताओं ने इसे सिरे से नकार दिया है ! विपक्ष के भी नेताओं ने इस प्रस्ताव पर अपनी कड़ी नाराजगी विशेष सत्र बुलाने की मांग की थी !

पंजाब और हरयाणा के बिच चलते जगड़े से सामने आया है अगर पंजाब पानी न दे तो हरयाणा में पानी कमी हो सकती है क्युकी हरियाणा में झा से पानी आता है वह नदी पंजाब से होकर निकलती है इसलिए पंजाब जब चाहे हरियाणा का पानी रोक सकता है इसलिए पंजाब और हरियाणा की आपसी लडाई से आम आदमी को इस्सका सामना करना पद सकता है क्योकि उसके पास न पैसा होगा न पनिओ तो आम आदमी का जीना बड़ा मुसकिल हो सकते है इसलिए ये जगदा ज्यादा बदना नही चाहिए ये जगदा यही रुकना चाहिए ज्यादा बड़ेगा तो किसी का फायदा नही है इसलिए दुआ करो ये जगदा न हो

Leave a Reply

Your email address will not be published.