Haryana Ring Road: हरियाणा के करनाल में बनेगा रिंग रोड, इन 23 गांवों से होकर गुजरेगा

हरियाणा के करनाल में रिंग रोड बनेगा। इसके लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने भी मंजूरी दे दी है। रिंग रोड करनाल के 23 गांवों से होकर गुजरेगा। इसके लिए यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य तेज कर दिया गया है।

Haryana Ring Road: हरियाणा के करनाल में बनेगा रिंग रोड, इन 23 गांवों से होकर गुजरेगा

करनाल। CM सिटी करनाल को बड़ी सौगात मिली है। करनाल में रिंग रोड बनेगा। रिंग रोड का 23 गांवों को इंतजार है। इस रोड का निर्माण शुरू करने से पहले यूटिलिटी शिफ्टिंग का कार्य तेज हो गया है। इसके अलावा अन्य औपचारिकताओं को पूरा करने की दिशा में भी गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं।

कुछ माह से इस रोड के टेंडर डाक्टयूमेंट ड्राफ भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण में मंजूरी के लिए गया हुआ है। इसे भी जल्द मंजूरी मिलने की संभावना है। अलबत्ता यूटिलिटी शिफ्टिंग, फोरेस्ट प्रपोजल व स्ट्रक्चर वेल्यूएशन का कार्य ने गति पकड़ ली है। जबकि इस रोड का निर्माण अपने निर्धारित समय अवधि से कई माह लेट हो चुका है।

क्या है करनाल रिंग रोड परियोजना

करनाल रिंग रोड साढे 34 किलोमीटर लंबा होगा और यह जिले के 23 गांवों से होता हुआ जाएगा। इसके लिए 219 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण का कार्य लगभग पूरा हो गया है। इसके बाद नवम्बर माह में अवार्ड किए जाएंगे और 2021 के अंत तक प्रोजेक्ट के निर्माण का काम शुरू होकर 24 से 30 महीनो में मुकम्मल हो सकता है। इसकी अलाइन्मेंट यानि मार्गरेखा लगभग फाइनल है। भूमि अधिग्रहण और यूटिलिटि शिफ्टिंग के कार्यों पर जितना खर्च आएगा, वह केन्द्र व राज्य सरकार दोनों की तरफ से आधा-आधा होगा।

कहां से कहां तक होगा करनाल रिंग रोड

करनाल रिंग रोड छह लेन का बनेगा, जिसकी चौड़ाई करीब 60 मीटर होगी। करनाल के पश्चिम में शामगढ़ के साथ लगते विवान होटल के आस-पास से यह मार्ग शुरू होकर गांव दरड़ से नेवल, शेखपुरा, गंजोगढ़ी से होते कुटेल के पास टोल प्लाजा तक जाएगा। रिंग रोड की दूसरी अलाइन्मेंट नेशनल हादवे से गुजरती पश्चिमी यमुना नहर की पटरी पर बनी सड़क जो कैथल रोड को क्रास करती आगे बड़ौता गांव तक जाएगी और वहां से खरकाली, झिमरहेड़ी होते एनएच-44 को क्रास करते रिंग रोड को मिलेगी।

यह गांव रिंग रोड के इंतजार में

इस परियोजना के तहत 23 गांव की जमीन आएगी। इस रोड की शुरूआत को लेकर यह सभी गांव इंतजार में है। इन गांवों में नीलोखेड़ी खंड का गांव शामगढ़, दादूपर, झंझाड़ी, कुराली, दरड़, सलारू, टपराना, दनियालपुर व नेवल तथा करनाल का गांव कुंजपुरा, सुभरी, छपराखेड़ा, सुहाना, शेखपुरा, रांवर, गंजोगढ़ी, बड़ौता, कुटेल व ऊंचा समाना व घरौंडा का गांव खरकाली, झिमरहेड़ी, समालखा व बिजना सहित 23 गांव शामिल है।

रिंग रोड प्रोजेक्ट में शामिल है लाजिस्टिक पार्क

इस परियोजना में करीब 50 हेक्टेयर क्षेत्र में गंजोगढ़ी गांव के पास एक लाजिस्टिक पार्क बनाया जाना प्रस्तावित है, जिसमें मैकेनाइज्ड वेयर हाउस और कोल्ड स्टोर बनेंगे।

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published.