IND vs AUS 2nd T20 Playing 11: नागपुर में नहीं जीते तो हार जाएंगे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज, जानिए संभावित प्लेइंग-11

India vs Australia 2nd T20 Playing 11 Prediction: मोहाली में खेले गए पहले टी20 मैच में टीम इंडिया की हार हुई थी। अगर वह यहां भी हारती है तो सीरीज हार जाएगी। भारत के लिए राहत की खबर यह है कि इस मैच में स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की वापसी तय मानी जा रही है।

IND vs AUS 2nd T20 Playing 11: नागपुर में नहीं जीते तो हार जाएंगे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज, जानिए संभावित प्लेइंग-11

बुमराह को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला के लिए टीम में चुना गया था लेकिन टीम प्रबंधन ने उन्हें मोहाली में पहले मैच में अंतिम एकादश में नहीं रखा था। इससे यह संदेह पैदा हो गया था कि वह अब पूरी तरह फिट हैं या नहीं। भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया से लगातार दूसरी घरेलू सीरीज हारने का खतरा मंडरा रहा है। ऑस्ट्रेलिया ने 2019 में विशाखापत्तनम और बैंगलोर में दो मैचों की श्रृंखला 2-0 से जीती।
नागपुर में गेंदबाजों की भूमिका अहम
विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम का विकेट हालांकि मोहाली से अलग होगा। विकेट के धीमे होने की संभावना है और ऐसे में गेंदबाजों की भूमिका अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है। शाम को ओस के प्रभाव को देखते हुए किसी भी टीम के लिए लक्ष्य का पीछा करना बेहतर होगा।
हार्दिक ने 14 ओवर में लूटे 150 रन
भारतीय टीम अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण को लेकर चिंतित है जिसमें ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या भी शामिल हैं। उन्होंने आखिरी 14 ओवरों में 150 रन दिए हैं। डेथ ओवरों में अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार चल नहीं पा रहे हैं। उन्‍होंने 19वें ओवर में पाकिस्‍तान, श्रीलंका और ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ गेंदबाजी की, लेकिन इन तीन ओवरों में उन्‍होंने 49 रन दिए। ऐसे में भारत के लिए बुमराह का फिट होना बेहद जरूरी हो गया था। ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप से पहले भारत को अभी पांच मैच खेलने हैं और इन मैचों में उसे अपनी सभी कमजोरियों से पार पाना होगा. भारत विश्व कप में अपना पहला मैच 23 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ खेलेगा।
स्पिनर चहल भी लय में नहीं
जहां एशिया कप से पहले शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों का रवैया भारत के लिए परेशानी का सबब रहा था, वहीं अब गेंदबाजी उनके लिए चिंता का विषय बन गई है क्योंकि अनुकूल बल्लेबाजी परिस्थितियों में भारतीय गेंदबाजों की कमजोरी सामने आ गई है. किसी भी हाल में भारत के मुख्य स्पिनर युजवेंद्र चहल पहले की तरह मारक क्षमता नहीं दिखा रहे हैं। वह पिछले कुछ मैचों में काफी महंगे साबित हुए हैं। उन्हें उन विकेटों पर भी प्रदर्शन करने का तरीका खोजना होगा जो स्पिनरों के लिए मददगार नहीं हैं। रवींद्र जडेजा के चोटिल होने के कारण टीम में चुने गए ऑलराउंडर अक्षर पटेल ने हालांकि पिछले मैच में तीन विकेट लेकर अपनी काबिलियत साबित की।
फील्डिंग में खराब प्रदर्शन
पिछले मैच में भारत की फील्डिंग भी अच्छी नहीं रही और उसने तीन आसान कैच छोड़े। पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी इसके लिए टीम की आलोचना की थी। बल्लेबाजी में आक्रामक रुख का फायदा मिल रहा है. पिछले मैच में इसी तरह से बल्लेबाजी करते हुए केएल राहुल, हार्दिक पांड्या और सूर्यकुमार यादव ने रन बटोरकर 200 रन के पार ले लिया जबकि शीर्ष क्रम के बल्लेबाज रोहित शर्मा और विराट कोहली जल्दी आउट हो गए। टीम में फिनिशर की भूमिका निभा रहे दिनेश कार्तिक को पिछले मैच में ज्यादा मौका नहीं मिला और यहां और मौके दिए जा सकते हैं ताकि विश्व कप के लिए विकल्प खुले रहें।
हरियाली पर अंकुश लगाना होगा
दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया हर विभाग में ठोस दिख रहा है जबकि उसकी टीम में डेविड वार्नर, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस और मिशेल मार्श जैसे खिलाड़ियों की कमी है। वार्नर की अनुपस्थिति में पारी की शुरुआत करने के लिए भेजे गए कैमरन ग्रीन ने शानदार भूमिका निभाई, जबकि अनुभवी स्टीवन स्मिथ और टिम डेविड ने ऑस्ट्रेलिया के लिए पहला मैच खेलकर टीम को मजबूती प्रदान की। मैथ्यू वेड ने फिनिशर की अपनी भूमिका पर खरा उतरा। उन्होंने 21 गेंदों में नाबाद 45 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया की जीत में अहम भूमिका निभाई। ऑस्ट्रेलिया को हालांकि अपनी गेंदबाजी में अधिक अनुशासित रहना होगा क्योंकि तेज गेंदबाज पैट कमिंस, जोश हेजलवुड और ग्रीन ने मोहाली में काफी रन लुटाए थे।
दोनों टीमों के संभावित प्लेइंग-11
भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), अक्षर पटेल, हर्षल पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और युजवेंद्र चहल।

ऑस्ट्रेलिया: एरोन फिंच (कप्तान), कैमरून ग्रीन, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, टिम डेविड, जोश इंगलिस, मैथ्यू वेड (विकेटकीपर), पैट कमिंस, नाथन एलिस, एडम ज़म्पा, जोश हेज़लवुड।

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published.