मानसून ने बिगाड़ी शहर की सफाई व्यवस्था, सड़कों पर कीचड़ व जलभराव

मानसून के आते ही शहर की सफाई व्यवस्था पटरी से नीचे उतरती दिखने लगी है। शहर के सेक्टरों में सड़कों पर जलभराव व कीचड़ के साथ अब कचरा उठान भी परेशानी बन गई है। शहरवासियों का कहना है कि बरसात के मौसम में जलजनित बीमारियों का खतरा अभी से मंडराने लगा है। उनका सवाल यह है कि क्या नगर परिषद मानसून के इस मौसम में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त रख पाएगी।

मानसून ने बिगाड़ी शहर की सफाई व्यवस्था, सड़कों पर कीचड़ व जलभराव

सेक्टर 1 निवासी लोगों की माने तो सरकारी भवनों के परिसरों में ही अनावश्यक वनस्पति खड़ी है जिनमें जहरीले जीव जंतु पैदा हो रहे हैं। सार्वजनिक पार्कों में नियमित तौर पर घास कटाई नहीं कराई जा रही। सड़कों के आस – पास कूड़ेदानों में लावारिस पशु मुंह मारते रहते हैं। सड़कों पर कचरा पड़े रहने से तेज हवा चलने पर वह कचरा घरों के भीतर चला जाता है।

सेक्टर चार के निवासियों ने कहा कि यहां जिमखाना क्लब से डिस्पेंसरी की ओर जाने वाली सड़क कई जगह से टूटी हुई है जिसमें बारिश का पानी भरा हुआ है। नगर परिषद के अधिकारियों से पहले भी कई बार इसकी शिकायत की गई मगर परिणाम शून्य रहा। अब फिर DC अशोक कुमार गर्ग के संज्ञान में यह मामला लाया गया है। यहां मार्केट के आस पास खाली जगहों में कचरा फेंका जा रहा है।
– बरसात का मौसम शुरू होने के बाद नगर की सफाई पर बुरा प्रभाव पड़ा है। रोजाना कोर्ट आते हैं तो काफी जगह बारिश का पानी भरा देखते हैं। गंदगी इधर उधर पड़ी रहती है। सेक्टरों में भी बुरा हाल है। लोग परेशान हैं।
– दयाराम रंगा एडवोकेट।
– मानसून आने के बाद छोटे बावल शहर की सड़कें तालाब बन जाती हैं। नेहचाना रोड पर कई जगह जलभराव होता है। छोटूराम चौक के आसपास सड़क पर मंडी लगने से गंदगी फैली रहती है। सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं, सुधार होना चाहिए। – राजकमल कौशिक, बार सचिव, बावल।
– शहर की सड़कों पर हल्की बारिश के बाद कीचड़ और जलभराव होता है। सफाई व्यवस्था कमजोर है। पार्कों में बुरा हाल है। सड़कों में सीवर दबे हुए हैं, जिनमें पानी भर जाता है। दुपहिया वाहन चालक चोट खाते हैं। सरकुलर रोड़ पर कचरा पड़ा रहता है। – शमशेर यादव, बार प्रधान, रेवाड़ी।
– शहर के सेक्टर 3 और 4 में जल भराव की समस्या गंभीर है। हमने उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग से मुलाकात करके इस समस्या के जल्द समाधान की मांग उठाई है। गंदगी इधर उधर फेंक दी जाती है। सड़कों पर राह चलते लोग कचरा फेंक देते हैं। – अनिल यादव सामाजिक कार्यकर्ता सेक्टर 4
शहर की सफाई व्यवस्था पर बारिश का प्रभाव पड़ा है। DC ने सड़कों को दुरुस्त करने के आदेश दिए हैं। नगर परिषद इसमें अपना सहयोग करेगी। जलभराव नहीं होने दिया जाएगा। सेक्टरों में सफाई व्यवस्था सुधारने की ओर विशेष ध्यान दिया जाएगा। – प्रवीन कुमार, सचिव, नगर परिषद।

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published.