बिजली संशोधन विधेयक-2022 के विरोध में प्रदर्शन

बिजली संशोधन विधेयक-2022 के विरोध में हिसार सर्कल में सोमवार को आल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर यूनियन डिप्लोमा कोर्स और हरियाणा पावर इंजीनियर्स एसोसिएशन (HPEA) सहित सभी बिजली कर्मियों ने सभी सब डिवीजनों पर धरना प्रदर्शन किया।

बिजली संशोधन विधेयक-2022 के विरोध में प्रदर्शन

हिसार : बिजली संशोधन विधेयक-2022 के विरोध में हिसार सर्कल में सोमवार को आल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर यूनियन, डिप्लोमा कोर्स और हरियाणा पावर इंजीनियर्स एसोसिएशन (HPEA) सहित सभी बिजली कर्मियों ने सभी सब डिवीजनों पर धरना प्रदर्शन किया। यूनियनों ने बताया कि अगर केंद्र सरकार ने बिजली संशोधन विधेयक-2022 पारित किया तो काम छोड़कर धरना प्रदर्शन शुरू कर देंगे। सोमवार को हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर यूनियन यूनिट नंबर 2 ने नए बिजली संशोधन विधेयक के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। धरने की अध्यक्षता यूनिट प्रधान विजेंद्र पूनियां ने की व संचालन सचिव रमेश झोरड़ ने किया। यूनियन के राज्य उप प्रधान जगमेंद्र पूनिया व सूबे कादयान व राज्य सचिव दलीप सोनी ने बताया कि केंद्र सरकार बिजली संशोधन विधेयक-2022 को लोकसभा में पेश कर रही है, जो बिलकुल गलत है। पिछले साल भी सरकार ने इस कानून को पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया था, लेकिन नेशन को-ओर्डिनेशन कमेटी आफ इलेक्ट्रीसिटी एंपलाइज एंड इंजीनियर के विरोध व हड़ताल की घोषणा के कारण बिल को वापस ले लिया था। वहीं सातरोड सब यूनिट और आजाद नगर सब यूनिट में दो घंटे का विरोध प्रदर्शन किया गया। इसकी अध्यक्षता सातरोड़ सब यूनिट के प्रधान ने की व मंच संचालन आजाद नगर प्रधान राजबीर ने किया।

इस मौके पर ओमप्रकाश माल, प्रदीप, विनोद कुमार, रविद्र बिश्रोई, दीनदयाल शर्मा, सुभाष सिरोही, बलजीत कस्वां, उमेश बूरा, सतीश जाखड़, प्रेम पूनियां, जयबीर, सुरेश भ्याणा, मुकेश गौतम, रमेश, शैलेंद्र व कुलदीप , सुरेश, सतबीर, शैलेष शर्मा, धर्मबीर, सुभाष खिचड़, राकेश शर्मा, जसबीर सैनी आदि मौजूद रहे।

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *