पंचकूला गांव की सड़क दयनीय हालत में

पंचकूला के बुदनपुर गांव की सड़कें गड्ढों से पट गई हैं. अंडरग्राउंड पाइप डालने का काम जनवरी से चल रहा है। काम को जल्द पूरा करने को लेकर गांव के लोगों ने कई बार शिकायत की, लेकिन सब बेकार। मानसून हम पर है और निवासियों के लिए सड़क का उपयोग करना बहुत मुश्किल हो जाएगा। गड्ढों से हादसों का खतरा बना रहता है और कुरियर सेवाएं भी कीचड़ भरी सड़कों के कारण पार्सल पहुंचाने से मना कर देती हैं। विभिन्न ग्राम विकास योजनाओं के शुभारंभ के बावजूद 2014 से बुदनपुर में कोई विकास नहीं हुआ है। सड़क निर्माण और बुनियादी सुविधाओं की परियोजनाओं को पूरा करने के लिए एक सख्त कार्य योजना की आवश्यकता है।

पंचकूला गांव की सड़क दयनीय हालत में

अंधेरे में पिहोवा

कुरुक्षेत्र के पिहोवा कस्बे में स्ट्रीट लाइट नहीं होने के कारण अंधेरा रहता है। अधिकारियों द्वारा नई स्ट्रीट लाइटें लगाई गईं, लेकिन उन्हें अभी तक कोई कनेक्शन नहीं दिया गया है। रात में लोगों का आना-जाना मुश्किल हो जाता है। संबंधित अधिकारियों को समस्या का समाधान करना चाहिए।

लापरवाही हो सकती है खतरनाक

अंबाला छावनी बस स्टैंड के पास नाले के एक किनारे को खुला और लावारिस छोड़ दिया गया है। बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों सहित सैकड़ों यात्री यहां से बसों में चढ़ते हैं और किसी भी प्रकार की लापरवाही उन्हें गंभीर चोट पहुंचा सकती है। संबंधित अधिकारियों को सार्वजनिक स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था पर ध्यान देना चाहिए। यात्रियों की सुरक्षा के लिए यह महत्वपूर्ण है कि नाले को या तो बंद कर दिया जाए या उसके चारों ओर बैरियर लगा दिए जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *