पाइपलाइन ठीक कर रहे कर्मी पर गिरा टैंकर, मौत

कैथल। गांव उझाना-कुल्तारण मार्ग पर मंगलवार शाम जनस्वास्थ्य विभाग की पेयजल पाइपलाइन को ठीक कर रहे एक कर्मचारी के ऊपर पानी का छिड़काव करने वाला टैंकर गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही जिला अस्पताल में भारी संख्या में कर्मचारी एकत्रित हो गए। उन्होंने सरकार से 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता और परिवार के एक सदस्य को स्थायी नौकरी देने की मांग की है। वहीं पुलिस ने मामले में ट्रैक्टर चालक के खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाने के आरोप में केस दर्ज किया है।

पाइपलाइन ठीक कर रहे कर्मी पर गिरा टैंकर, मौत

कर्मचारी नेता ओमपाल भाल, रामपाल शर्मा और मृतक कर्मचारी के साथ काम करने वाले सुरेश कुमार ने बताया कि गांव उझाना से कुल्तारण की सड़क का निर्माण करवाया जा रहा है, जहां जनस्वास्थ्य विभाग की पेयजल पाइपलाइन टूट गई थी। इसे ठीक करने के लिए जनस्वास्थ्य विभाग से कर्मचारी प्रवीण कुमार, सुरेश कुमार और गांव बाबा लदाना निवासी रमेश कुमार पहुंचे थे। जहां एक गड्ढा खोद कर कर्मचारी पाइपलाइन ठीक कर रहे थे। इस बीच एक ट्रैक्टर चालक टैंकर से पानी का छिड़काव कर रहा था।

जैसे ही ट्रैक्टर गड्ढे के निकट पहुंचा तो टैंकर खुदे हुए गड्ढे के ऊपर पलट गया, जिसमें नीचे उतर कर रमेश काम कर रहा था, जबकि कर्मचारी सुरेश और प्रवीण कुमार ऊपर ही थे। जैसे-तैसे उन्होंने आस-पास के लोगों की मदद से रमेश को बाहर निकाला, लेकिन तब तक रमेश की मौत हो चुकी थी। कर्मचारी नेता ओमपाल भाल ने बताया कि मृतक कौशल विकास के तहत जनस्वास्थ्य विभाग में कार्यरत था। उन्होंने सरकार से परिवार को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता और एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की। सकारात्मक कार्रवाई नहीं होने पर बुधवार से विरोध प्रदर्शन की चेतावनी दी गई। वहीं जांच अधिकारी महीपाल ने कहा कि पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाने के आरोप में 279 व 304ए के तहत केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *