स्कूल जाने को कहा तो गुस्से में घर से निकले, चार दिन बाद इस हालत में मिले

राज्य अपराध शाखा प्रभारी संजय भड़ाना के अनुसार उन्हें सूचना मिली थी कि शहर से लापता हुए 13 वर्षीय कृष्णा और 11 वर्षीय गोबिंद गाजियाबाद जिले में मौजूद हैं. परिजनों द्वारा शिनाख्त के बाद बच्चों को वापस पलवल लाया गया।

स्कूल जाने को कहा तो गुस्से में घर से निकले, चार दिन बाद इस हालत में मिले

पलवल। हरियाणा राज्य अपराध शाखा ने शहर के राजीव नगर से चार दिन पहले लापता हुए दो बच्चों का पता लगाने में सफलता हासिल की है. मंगलवार को क्राइम ब्रांच की टीम ने बच्चों को उनके परिजनों से मिलवाया। स्कूल जाने के लिए रिश्तेदारों द्वारा डांटे जाने पर दारास गुस्से में घर से निकल गए और ट्रेन में सवार होकर उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद पहुंच गए.

गाजियाबाद जिले में मिले बच्चे
राज्य अपराध शाखा प्रभारी संजय भड़ाना के अनुसार उन्हें सूचना मिली थी कि शहर से लापता हुए 13 वर्षीय कृष्णा और 11 वर्षीय गोबिंद गाजियाबाद जिले में मौजूद हैं. परिजनों द्वारा शिनाख्त के बाद बच्चों को वापस पलवल लाया गया। पलवल लाने के बाद बच्चों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया. परिवार के सदस्य अपने बच्चों से मिलकर बहुत खुश हुए। कृष्णा के पिता कप्तान सिंह और गोबिंद के पिता हरि सिंह ने अपने बच्चों को खोजने के लिए पुलिस को धन्यवाद दिया।

स्कूल जाने को कहा तो ट्रेन से गाजियाबाद पहुंचे
पुलिस ने बताया कि दोनों बच्चों के परिजनों ने जब उन्हें स्कूल जाने को कहा तो वे नाराज होकर पलवल रेलवे स्टेशन पहुंचे और यहां से ट्रेन में सवार होकर गाजियाबाद पहुंचे. गाजियाबाद पुलिस को दोनों बच्चों के बारे में जानकारी मिली थी. बच्चों से जब पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वे पलवल के रहने वाले हैं, लेकिन बच्चे इससे ज्यादा कुछ नहीं बता पाए. पुलिस ने फौरन शहर में बच्चों के परिजनों की तलाश शुरू कर दी. इस दौरान उन्हें पता चला कि ये दोनों बच्चे राजीव नगर के रहने वाले हैं, जो कुछ दिन पहले रिश्तेदारों की डांट से नाराज होकर घर से निकल गए थे.

Tags :

Leave a Reply

Your email address will not be published.